भारत के राष्ट्रीय शिक्षा बोर्ड, सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने इंटेल के साथ मिलकर AI (Artificial Intelligence/ कृत्रिम बुद्धिमत्ता) प्लेटफॉर्म - AI स्टूडेंट कम्युनिटी (AISC) लॉन्च किया है ।

एआई स्टूडेंट कम्युनिटी (AISC) देश भर के छात्रों -- सीबीएसई और गैर-सीबीएसई स्कूलों -- के लिए खुला है और छत्रो को डिजिटल-प्रथम मानसिकता बनाने और एआई-रेडी पीढ़ी का समर्थन करने के लिए परिकल्पना की गई है।

इस AI प्लेटफॉर्म का मुख्य उद्देश्य एक ऐसी जगह प्रदान करना है जहां छात्र सीखने और अनुभवों को साझा करने के लिए एक साथ आ सकें। CBSE के अपडेट के अनुसार, AISC छात्रों को समावेशी तरीके से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में जागरूकता पैदा करने और फैलाने में मदद करेगा।

इसके अलावा, सीबीएसई और इंटेल के एआई आउटरीच कार्यक्रमों के हिस्से के रूप में छात्रों द्वारा निर्मित एआई-सक्षम सामाजिक प्रभाव समाधानों का एक 'एआई प्रोजेक्ट्स' भंडार भी होगा। छात्र अपने वीडियो और पोस्ट मॉडरेशन साझा कर सकते हैं, जिन्हें रिपॉजिटरी में अपलोड किया जा सकता है।

2019 में, CBSE ने AI को 'एआई-रेडी जनरेशन' विकसित करने के उद्देश्य से ग्रेड 8 से ऊपर के छात्रों के लिए एक कौशल विषय के रूप में पेश किया था - जो स्थानीय और वैश्विक समस्याओं को हल करने के लिए AI को समझ और लागू कर सकते हैं। तब से, 4926 से अधिक स्कूलों ने एआई को एक कौशल विषय के रूप में शामिल करने के लिए संबद्ध किया है जो भारत के भविष्य के कार्यबल को एआई-तैयार बनने में सक्षम बनाता है।


Post a Comment

नया पेज पुराने